Facebook Like

Featured Video

Friday, 30 November 2018

5 Lost Invention That Could Have Changed Our World ?


5 Lost Invention That Could Have Changed Our World


इस लेख मे हमने Reader के लिए कुछ एसे लुप्त हो चुके  Technology या  फिर ये कहे की समाप्त कर दिए गए Technology के बारे मे जानकारी साझा कर रहे है, जिनके होने से  इस दुनिया मे काफी बदलाव हो सकते थे ! इसलिए हम यह आशा करते है की आप सब को हमारा यह लेख भी जरुर पसंद आएगा ! 



1.    SLOOT DIGITAL CODING SYSTEM
2.    PLASMA BATTERY
3.    CHRONOVISOR
4.    TOM OGLE CARBURETOR
5.    STAR-LITE

Sloot Digital Coding System


                      Jan Sloot नामक एक सक्श जो Electronic Engineer था !उन्होंने 1995 मे Data Compreser की एक बेहतरीन तकनीक इजात की थी, जिसकी मदद से किसी भी Hollywood Movies को सिर्फ 8 kb मे Compres कर के रख सकते थे ! इस Technique को उन्होंने नाम दिया था Sloot Digital Coding System. इस Technique का प्रयोग इन्होने Philips Company के अधिकारियों के सामने भी कर के दिखाया जिसमे उन्होंने 64 kb के एक cheep की मदद से 8 Hollywood Movies को एक के बाद एक करके चला के दिखाया था ! 

लेकिन दुर्भाग्य यह की Jan Sloot इस Technique को Philips Company को या फिर किसी और को दे पाते उससे पहले 1999 मे उनकी एक रहस्यमयी तरीके से मृत्यु हो गई ! इसके अलावा इन्होने जिस Flopy drive मे Sloot Digital Coding System के Source Code को Save किया था, वह भी रहस्यमयी तरीके से गायब हो गई !

Plasma Battery


        Plasma Battery का अविष्कार Drimitri Petronov ने किया था ! उन्होंने इस Battery के निर्माण के बाद यह दावा भी किया था की इसे बिना Charger किये 3 साल तक चलाया और इस्तेमाल किया जा सकता है ! इतना ही नहीं इस Battery का इस्तेमाल कर के उन्होंने अपने पूरे घर को बिजली से प्रकाशित भी कर रखा था ! इस Battery के अविष्कार से Electricity की समस्या पूरी दुनिया से समाप्त हो सकती थी ! लेकिन इस अविष्कार के बारे मे पता चलते ही Drimitri Petronov को Military Iom Moscow से उन्हें इस अविष्कार को दिखाने के लिए निमंत्रण मिला जिसके बाद Military Iom Moscow को इनका यह अविष्कार बहुत पसंद आया जिसकी वजह से वे निवेश करने के लिए भी तैयार हो गए थे लेकिन इसकी कुछ शर्ते भी थी जिसकी वजह से वे खुश नहीं थे इसके कुछ ही दिनों बाद Drimitri से एक Wardiman नाम के एक सक्श मिलने आए और इस मुलाक़ात के बाद Drimitri काफी चिंतित से रहने लगे और कुछ महीनो बाद वे लापता हो गए उनके लापता होने की Report करके उनकी बहन जब घर वापस आयी तो पाता चला की Military के दो आदमी ने उनके घर मे घुस कर Plasma Battery ले कर चले गए और एक साल बाद Russia के Volga नदी के पास एक सड़ी हुई लाश मिली जिसे Drimitri की लाश बताई जाती है ! इसी के साथ इस लाश के साथ ही साथ Plasma Battery बनाने का तरीका भी दफ़न हो गया !


Chronovisor


     Chronovisor का अविष्कार Ernetti Allegedly ने किया था ! जो फादरी तथा इटली के एक वैज्ञानिक थे ! इन्होने 1960 के दौरान एक एसी मशीन का अविष्कार किया था जिसकी मदद से हम भूतकाल की चीजो को देख तथा सुन सकते थे ! जिसे इन्होने इस मशीन को Chronovisor का नाम दिया था ! 

इनके अनुसार Lumenas Energy और Sound जब किसी चीज से निकलते है तो वह वातावरण मे Record हो जाते है, जिसे हम इस तकनीक से भूतकाल के चीजों को देख और सुन सकते है ! उन्होंने यह भी बताया की इस मशीन की मदद से उन्होंने भूतकाल के बहुत से महत्त्वपूर्ण घटनाओं को भी देखा है जिसमे से एक इ.सू क़िस्त का अंतिम समय भी था ! अपने अंतिम समय मे उन्होंने अपने सभी दोस्तों  से मुलाकात भी की जिन्होंने इस मशीन को बनाने मे उनकी मदद की थी, और इस मुलाकात के बाद इस मशीन को भी नष्ट कर दिया गया वो इसलिए क्युकी कुछ लोग इस मशीन का गलत तरीके से इस्तेमाल करना चाहते थे !

Tom Carborater


     1978 मे Tom Ogle नाम के एक 19 साल के लडके ने एक एसा Carborater बनाया जो Automobile Industry का नशीब ही बदल देता ! यह अविष्कार तब हुआ जब Tom Ogle ने अपने Long Hummer के Fule Tank मे गलती से छेद कर दिया और इस छेद को बंद करने की जगह पर Tom ने इस छेद को Vapor Line की मदद से Carborater मे लगा दिया जिसके बाद Fule Tank आधा भरा होने के बावजूद Long Hummer लगातार 96 घंटे तक चलता रहा ! इसे देखकर उन्होंने अपनी कार पर अगले कुछ सालो तक Experiment किये और इस Experiment मे उन्हें सफलता भी मिली ! इन्होने Fule Pump और Carborater की जगह एक Black Box को लगाया जिसे वह इसे Filter कहते थे ! इस Filter की मदद से उन्होंने बड़े विशेषज्ञों और पत्रकारों के सामने 2 Gallon Fule से 200 मील की दुरी तय कर के दिखाया था ! एसा उनके द्वारा बनाए गए filter box की वजह से हो पाया था क्युकी इस अविष्कार के बाद इंधन की खपत ना के बराबर होती थी !

   इस खबर के बाहर आते ही इन्हें इस प्रोजेक्ट के लिए निवेश भी मिलने लगे और जब इन्हें निवेश मिलना शुरू हुआ तब एक खबर और सामने आने लगी की इस अविष्कार का patent बहुत सी दूसरी कंपनियों के पास पहले से ही मौजूद है जिसमे से America की एक जानी मानी company General Motors का भी नाम शामिल था ! यह बात सामने आते ही Tom को Shell Well company जिसने उन्हें इस Project के लिए $2.5cr. का निवेश किया था वह वापस ले लिया ! जिसके बाद वे काफी Depress रहने लगे और नशा भी करने लगे जिससे उन्हें नशे की लत लग गई ! 1981 मे उन्हें किसी ने गोली मार दी जिससे उनकी मृत्यु हो गई लेकिन जांच के बाद उनके मृत्यु को आत्महत्या घोषित कर दिया गया था ! उनकी मृत्यु के बाद उनके द्वारा किये गए Invention के patent का पहले से होने का दावा करने वाली एक भी company सामने नहीं आई और शायद इसीलिए Tom की मृत्यु के बाद इस Invention को बनाने की तकनीक भी ख़त्म हो गई !


Starlite


    Chemist Maurice Ward ने 1980 के दौरान एक एसे प्रदार्थ का निर्माण किया था जो बहुत ऊँचे तापमान को भी सहन कर सकता था, इस पदार्थ को उन्होंने Starlite का नाम दिया था ! उनका दावा था की यह पदार्थ 10,000 Dg. से भी ज्यादा तापमान झेल सकता है, इतना ही नहीं उन्होंने अपने दावे को साबित करने के लिए Science and Technology नामक एक T.V Program मे एक प्रयोग कर के भी दिखाया था जिसमे अगर एक अंडे को Starlite से ढक दिया जाए और उस अंडे को अधिक तापमान या आग के हवाले कर दिया जाए तो भी अंडा सही सलामत रहता है ! 

इस प्रयोग के बाद NASA ने भी Starlite मे अपना Intrest दिखाया लेकिन Moris Word ने इस प्रदार्थ को बनाने का तरीका कभी भी किसी को नहीं बताया था और उनके मृत्यु के बाद इस प्रदार्थ को बनाने का तरीका भी इन्ही के साथ चला गया !



आशा करता हूं दोस्तों आप सब को हमारा यह पाठ जरूर पसंद आया होगा और ऐसे ही रोचक और ज्ञान की बातों के बारे में जानने के लिए आप सब बने रहिए अपने ही Gyanireader..“संपूर्ण ज्ञान का एक उत्तम संगम” के साथ !



Please, अगर आपको हमारा 5 Lost Invention That Could Have Changed Our World? यह लेख अच्छे लगे है तो आप हमें FacebookTwitter, Google+PinterestWhatsup, etc पर Follow, Like & Share जरुर करे!

Note :
 अगर आपके पास इस लेख से related नये या फिर कोई और भी जानकारी है तो आप सब हमें कमेन्ट के माध्यम से जरुर भेजे अच्छे लगने पर हम उसे इस लेख मे अवश्य शामिल करेगे !


                                 


                                                                                             ‘धन्यवाद’..!



No comments:
Write comments